30 November, 2005

क्या विश्व में हिन्दीभाषियों की संख्या सर्वाधिक है

नागरी लिपि परिषद के पत्रिका "नागरी संगम" के ताजा अंक मे एक शोधपत्र के बारे में सूचना प्रकाशित हुई है I इसके अनुसार, बोलने वालों की संख्या के आधार पर हिन्दी विश्व में प्रथम स्थान पर है I वैसे यह एक बहुत ही विवादास्पद, जटिल और अस्पष्ट विषय है तथा अलग-अलग श्रोत अलग-अलग आकडे प्रस्तुत करते रहे हैं I

आप भी इसे पढिए :


4 comments:

Jitendra Chaudhary said...

अमां किन्ही तथ्यों का हवाला तो दिया नही है,इसलिये यह कहना कि मन्दारिन ज्यादा लोग नही बोलते, गलत होगा। मेरे विचार से इस विषय पर ज्यादा शोध की आवश्यकता है। और चलो मान भी लिया कि हिन्दी सबसे ज्यादा लोगो बोलते है(सॉरी बोलना जानते है) तो क्या उखड़ जायेगा, शोध का विषय ये होना चाहिये कि हिन्दी जानने वाले वालों मे कितने प्रतिशत हिन्दी की इज्जत करते है?

रजनीश मंगला said...

बहुत सही तर्क दिए हो जीतू जी। हिन्दी फ़िल्मों में काम करने वाले तक निजी ज़िंदगी या इन्टर्वियू में हिन्दी नहीं बोलते।

महावीर said...

जीतू ने बिल्कुल पते की बात कही है कि "हिन्दी जानने वालों में कितने प्रतिशत हिन्दी की इज्जत
करते हैं?" मैं "हिन्दी का गला घुट रहा है" लेख
में यही गला फाड़ कर चिल्ला रहा था।

Real360degree said...

2000 million??
What is the population of Bharat?
Where do you think remaing 'hindi janane wale' live??

This is waht you call a research?